मुस्लिम समुदाय ने सहाबा की शान में गुस्ताख़ी के खिलाफ जलसा-.ए – आम किया…

 

शराबबंदी संघर्ष समिति ….

राजधानी लखनऊ में आये दिन अपने बयानों को लेकर चर्चा में बने रहने वाले शिया वक़्फ़ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिज़वी के ख़िलाफ़ आज मुस्लिम समुदाय ने सहाबा की शान में गुस्ताख़ी का आरोप लगाते हुए पुराने लखनऊ में जलसा-ए-आम का आयोजन किया l जिसमें कई मुस्लिम और हिंदू धर्म गुरु भी शामिल रहे।वही शराबबंदी संघर्ष समिति के अध्यक्ष मुर्तजा अली ने भी वसीम रिज़वी की ओर से हाल ही में दिए गए धार्मिक बयानों को लेकर मुस्लिम समुदाय को एकजुट  किया और उनके बयानों को लेकर शासन से कार्रवाई की मांग भी की।

इस मौके पर सहाबा एक्शन कमेटी के अध्यक्ष अब्दुल वहीद फारूकी ने कहा कि सहाबा की शान में गुस्ताख़ी को लेकर उन्होंने वसीम रिज़वी के खिलाफ 6 अक्टूबर को एफआईआर भी करवाई थी जिसपर न तो अब तक कोई कार्रवाई हुई है,न नोटिस जारी हुई है और न ही गिरफ्तारी की गई है। इसी वजह से हमने इस जलसे का आयोजन किया है, इस जलसे के बाद आगे की रणनीति तय की जाएगी।

वही जलसे में शामिल हुए हिन्दू धर्मगुरु आचार्य कृष्ण मोहन महाराज ने कहा कि मैं सभी धर्मों के कार्यक्रमो में शामिल होता है और यह संदेश देता हूं कि सभी लोग मिलजुल कर  रहो और जो ग़लत लोग हैं उनसे सावधान रहो। वही उन्होंने कहा कि जो भी गलत स्टेटमेंट दे रहा है उसका हम लोग विरोध करते हैं और इस कमेटी के ज़रिये हम यह कहना चाहते हैं कि जो भी गलत मैसज दिया जा रहा है उसको बंद होना चाहिए और लोगो के बीच अच्छा और सही स्टेटमेंट जाना चाहिए। उन्होंने शिया वक़्फ़ बोर्ड के चेयरमैन को नसीहत देते हुए कहा कि उनके बयान उचित नही हैं और निराधार हैं साथ ही कहा कि जो भी बयान वो देते हैं उनको सोच समझ कर देना चाहिए ताकि मुल्क में अच्छा संदेश जाए।